सैमुअल्स भ्रष्टाचार रोधी संहिता के चार नियमों के उल्लंघन के दोषी पाए

दुबई, 16 अगस्त (भाषा) वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर मार्लन सैमुअल्स को एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की भ्रष्टाचार रोधी संहिता के चार नियमों के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। स्वतंत्र भ्रष्टाचार रोधी पंचाट ने सुनवाई के बाद उन्हें दोषी पाया।

दुबई, 16 अगस्त (भाषा) वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर मार्लन सैमुअल्स को एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की भ्रष्टाचार रोधी संहिता के चार नियमों के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। स्वतंत्र भ्रष्टाचार रोधी पंचाट ने सुनवाई के बाद उन्हें दोषी पाया।

ईसीबी की भ्रष्टाचार रोधी संहिता के तहत नामित भ्रष्टाचार रोधी अधिकारी की भूमिका में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने सितंबर 2021 में सैमुअल्स पर 2019 में टी0 लीग के दौरान भ्रष्टाचार रोधी संहिता के चार नियमों के उल्लंघन के आरोप लगाए थे।

सैमुअल्स ने पंचाट के समक्ष सुनवाई के अपने अधिकार का प्रयोग किया जिसके बाद इस 42 वर्षीय को दोषी पाया गया।

आईसीसी ने विज्ञप्ति में कहा, ‘‘पंचाट अब सजा पर निर्णय लेने से पहले प्रत्येक पक्ष की दलीलों पर विचार करेगी। उचित समय पर निर्णय लिया जाएगा।’’

सैमुअल्स ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 71 टेस्ट, 207 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और 67 टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले जिसमें उन्होंने 11,134 रन बनाने के अलावा 152 विकेट भी चटकाए। उन्होंने नवंबर 2020 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया।

शीर्ष क्रम के इस पूर्व बल्लेबाज को आचार संहिता के नियम 2.4.2, 2.4.3, 2.4.6 और 2.4.7 के उल्लंघन का दोषी पाया गया।

इनमें से तीन नियम भ्रष्टाचार निरोधक अधिकारी को किसी भी उपहार, भुगतान, आतिथ्य या अन्य लाभ की प्राप्ति का खुलासा करने में विफलता से संबंधित हैं जो ऐसी परिस्थितियों में किया गया था या दिया गया था जो ‘प्रतिभागी या क्रिकेट के खेल को बदनाम कर सकता था’, जांच में सहयोग नहीं करना, और ‘प्रासंगिक जानकारी छिपाना, जांच में बाधा डालना या विलंब करना से संबंधित हैं।

सैमुअल्स 2019 में कर्नाटक टस्कर्स टीम का हिस्सा थे जिसकी अगुआई दक्षिण अफ्रीका के स्टार हाशिम अमला कर रहे थे।

Source: PTI News

शेयर करे:

Leave A Reply

फॉलो करे:
ताजा समाचार:
संबंधित लेख